13 लोगों की मौत 56 जवान ज़ख्मी, कानून अपने हाथ में न ले- दिल्ली पुलिस

 13 लोगों की मौत 56 जवान ज़ख्मी, कानून अपने हाथ में न ले- दिल्ली पुलिस

दिल्ली पुलिस के डीसीपी मनदीप सिंह रंधावा ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर हिंसा और उससे जुड़ी कार्रवाइयों की जानकारी दी। रंधावा ने कहा कि सोमवार से शुरू हुई हिंसा में अब तक 13 लोगों की जान जा चुकी है। इनमें नौ आम लोग हैं और एक हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल। डीसीपी रंधावा ने कहा, दिल्ली पुलिस के 56 जवान ज़ख़्मी हुए हैं। उत्तरी-पूर्वी दिल्ली में जवानों की पर्याप्त तैनाती है और कहीं भी तैनाती में कोई कमी नहीं है। हमारे पास अर्धसैनिक बलों में सीआरपीएफ़ और एसएसबी हैं। इनके अलावा ग्राउंड पर पट्रोलिंग के और कई तरह की निगरानी की जा रही है। पुलिस ने धारा 144 लगा दी है। 144 के बावजूद आज कुछ इलाक़ों में हिंसा हुई है। मैं दिल्ली वालों से अपील करता हूं कि क़ानून अपने हाथ में ना लें। असमाजिक तत्वों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की है। ड्रोन्स की मदद ले रहा हूं। हम सीसीटीवी रिकॉर्डिंग की भी जांच कर रहे हैं।

दिल्ली के हिंसाग्रस्त उत्तर पूर्वी इलाके में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए दंगाईयों को देखते ही गोली मारने के आदेश दे दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस के अधिकारी लाउडस्पीकर से इस बात की जानकारी जगह-जगह दे रहे हैं। इसके साथ ही लोगों को घरों के अंदर ही रहने की सलाह दी जा रही है।

Sharing

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *